Loading...

Blog Posts Ko Copy Paste Karne Ke Nuksan Hindi Me






Dusron Ki Blog Posts Ko Chori Karne Ke Nuksan Hindi Me डियर रीडर्स , आज मै आपको कुछ हटकर पोस्ट कर रहा हूँ। और मेरा विषय है ब्लॉग पोस्ट्स की चोरी। आज कल इंटरनेट जगत में एक दूसरे की पोस्ट्स को चोरी करना एक आम बात होती जा रही है। हालाँकि ये एक साईबर अपराध है। कुछ लोग सस्ती लोकप्रियता के लिए दूसरों की पोस्ट्स को कॉपी करके अपने नाम से प्रकाशित कर देते हैं। जिसकी पोस्ट्स है ना तो उनसे पूछने की जहमत करते हैं और ना ही उनका नाम कहीं लिखते हैं ,बस किसी की भी पोस्ट हो उसे अपने नाम से चिपका डालते हैं। ऐसे लोग ये नही जानते की कई ब्लोगर्स के पास अपनी ब्लॉग के कॉपी राईट अधिकार भी होते हैं ,ऐसे में अगर वो इन पोस्ट्स चोरी करने वालों की कम्प्लेन कर दें ,तो इन्हें लेने के देने भी पड़ सकते हैं। जाहिर सी बात है की एक ब्लोगर इतनी मेहनत और लगन से इंटरनेट जगत की ख़ाक छानने के बाद कोई पोस्ट अपने ब्लॉग पर करता है ,और आर्टिकल भी खुद ही अपने अंदाज़ में लिखता है ,उसके बाद उसी पोस्ट को कोई और नादान कॉपी करके अपने नाम से प्रकाशित कर दे ,तो उसे कितनी तकलीफ होती होगी ,उसका कितना दिल दुखता होगा ,ये बात सोचने की भी जहमत नही करते। अब अगर कोई ब्लोगर जिसका ब्लॉग भी रजिस्टर्ड है अगर इस तरह के किसी चोर की कम्प्लेन साईबर क्राइम ब्रांच में कर दे ,तो उसके लिए उसकी ये हरकत कितनी भारी पड़ सकती है उसका वो अंदाज़ा भी नही लगा सकता। 


एक ही विषय की कई पोस्ट्स 
someone copy your blog posts ?
How do you feel When someone copy your blog posts ?
कई बार ऐसा भी होता है की कई ब्लोगर्स एक ही विषय की पोस्ट्स अपने अपने ब्लोग्स पर कर देते हैं ,जो की महज एक इत्तिफाक होता है। उनका विषय जरुर एक होता है लेकिन उनके आर्टिकल्स अलग अलग ही होते हैं। किसी एक ही विषय पर उन दोनों ने अपने अपने अंदाज में लिखा होता है ,अब ये पोस्ट की चोरी नही है। बल्कि ये सिर्फ विषय का एक जैसा होना ही है। और ऐसा भी कोई जान बुझकर नही करते। एक दुसरे की पोस्ट को बिना पढ़े कई बार ऐसा इत्तिफाक हो जाता है। बाद में पता चलता है की इस विषय पर कोई ब्लोगर पहले ही पोस्ट कर चुके थे। मुझ पर भी एक बार ये इल्जाम लगा था की आपने फुलां हिंदी ब्लॉग से पोस्ट उठाई है। उस दिन से मैंने हिंदी ब्लोग्स पढना ही छोड़ दिया। हालाँकि ऐसा नही था ,बस विषय मिलते थे ,जिससे उन्होंने ये इल्जाम लगा दिया। जबकि दोनों के आर्टिकल्स में काफी अंतर था। 

दो तरह के लोग ऐसे काम करते हैं 
मै आपको बताता हूँ की इस साईबर अपराध को दो तरह के लोग ही कर सकते हैं। एक तो नए लोग जिन्हें इस बात का पता नही होता की ये भी एक अपराध है ,जो इनको एक दिन साईबर अपराधी भी बना सकता है। वो नए लोग सिर्फ खुद की ख़ुशी के लिए इस तरह के काम कर लेते हैं। वो लोग तो अनजान हैं ,भोले हैं ,नए हैं ,लेकिन उन्हें भी इस बात का ख्याल रखना जरुरी है की किसी की कोई भी पोस्ट को बिना उसकी इजाजत के बिना उसका नाम लिखे किसी और को कॉपी करके पोस्ट करने का कोई अधिकार नही है। लिहाजा इस तरह की गलती ना करें ,अगर किसी ने कम्प्लेन कर दी तो बुरे फंस जायेंगे। जिस किसी ने भी इस तरह की नादानियाँ की हैं ,वो आइन्दा इससे बचें।और जितनी भी दूसरों की पोस्ट्स को कॉपी करके अपने नाम से पोस्ट किया है उन्हें डिलेट कर दें। अगर ये लोग किसी इज्जतदार घराने से हैं तो ये जानने के बाद की ये एक अपराध है ,कभी भी ऐसी गलती नही कर सकते। 

और दूसरे वो लोग होते हैं जो की सब कुछ जानते हैं उन्हें पता होता है की दूसरों की पोस्ट्स को कॉपी करके अपने नाम से प्रकाशित करना एक अपराध है उसके बावजूद भी वो करते हैं। क्यूँ की उन्हें तो सिर्फ सस्ती लोकप्रियता से मतलब होता है। ऐसे लोग चाहे कितनी भी लोकप्रियता हासिल कर लें ,जिस दिन फँस गये उस दिन निकल भी नही पाएंगे। और इस एक गलती की वजह से इज्जत और शोहरत दोनों की नीलामी हो जाएगी। इसलिए मै उनसे अर्ज करता हूँ की आप लोग प्लीज इस तरह के साइबर अपराध ना करें। अगर आपको कोई पोस्ट पसंद है तो आप उसका लिंक शेयर कर दें ,लेकिन इस तरह से चोरी करना कितना बुरा काम है। किसी को भी नही छोड़ते कवियों की कवितायेँ चुरा लेते हैं ,और कवी बन जाते हैं ,तकनिकी पोस्ट्स को चोरी करके तकनीक के जानकार बन जाते हैं। ऐसे लोगों को शर्म आनी चाहिए ,जो दूसरों की मेहनत पर भी कब्ज़ा करके पानी फेर देते हैं। 

मै आखिर में उन लोगों से जो की दूसरों की पोस्ट्स को चोरी करके अपने नाम से पोस्ट्स करते हैं ,उनसे सिर्फ इतना ही कहूँगा की अगर आपका जमीर जिन्दा है ,तो कुछ ऐसा करो जो की किसी ने ना किया हो ,जो की आपकी अपनी मेहनत और लगन से किया गया हो। जिसे देख कर आपको भी गर्व हो की इस काम को आपने अपनी मेहनत से किया है। आखिर कब तक दूसरों की पोस्ट्स को चोरी करके लोगों को और अपने आप को धोखा देते रहोगे ,जिसे देख कर आपका जमीर भी यही कहेगा की ये वही पोस्ट्स हैं जिन्हें मैंने कहीं से कॉपी किया था ,जिसे अपना कहने के लिए मैंने एक साइबर अपराध किया था। 

अगर आपका हौंसला बुलंद है और आप कुछ करना चाहते हैं तो खुद के बलबूते पर करने की कोशिश करें। अपनी मेहनत और लगन से कुछ नया करने की कोशिश करें ,कुछ ऐसा जो किसी ने नही किया हो , मै आपको यकीन दिलाता हूँ की आप अपने अन्दर एक ख़ुशी महसूस करेंगे। लोग भी आपकी मेहनत और लगन को देख कर आपको सलाम करेंगे। किसी भी ब्लॉग की पोस्ट को चोरी करना उसे अपने नाम से प्रकाशित करने का अंजाम बहुत बुरा है। काश की समय पर ही ऐसे लोग समझ जाते। मुझे खुद ऐसी ब्लोग्स भी मिलीं जो की मास्टर्स टैक से मोहब्बत नामा से इंडियन ब्लोगर्स वर्ल्ड से नियमित पोस्ट्स चोरी करके अपने नाम से पोस्ट्स करते रहते हैं। आज की ये पोस्ट अपने उन्ही भाइयों को समझाने का एक छोटा सा प्रयास है। अब उनकी मर्जी है की वो इस प्रयास को कबूल करेंगे या साईबर अपराधियों में अपना नाम दर्ज करवाना पसंद करेंगे। मास्टर्स टैक एक रजिस्टर्ड ब्लॉग है ,इसके कॉपी राईट अधिकार मेरे पास सुरक्षित हैं ,ऐसे में मास्टर्स टैक की किसी भी पोस्ट को अपने नाम से प्रकाशित करना एक साईबर अपराध है। समझाना ये मेरी पहली कोशिश है ,अगर ये लोग समझ जाएँ। वर्ना दुसरे बहुत से तरीके हैं जिनके जरिये ऐसे लोगों से निपटा जा सकता है। उम्मीद करता हूँ की आइन्दा इस तरह के कामो से बचने का प्रयास करेंगे।

इस पोस्ट को मैंने 19/05/2013 को लिखकर पोस्ट किया था.इसमें बड़े काम की जानकारियां हैं ,इसलिए आज इसे दुबारा अपडेट किया है.

                                                        ''आमिर अली दुबई ,,
ब्लॉग ट्रिक्स 8113001437673506222

Post a Comment

  1. आपकी बात से मैं पूरी तरह सहमत हूँ आमिर भाई।

    ReplyDelete
  2. बहुत अच्छे लेकिन
    सर
    गूगल इमेज से इमेज उठाना तो कोई जुर्म नही

    ReplyDelete
  3. आमिर जी सही कहा आपने शायद किसी पर असर
    पडे
    मेरी नई पोस्‍ट एक अलग अंदाज में गूगल प्‍लस के द्वारा फोटो दें नया लुक

    ReplyDelete
  4. आपकी यह रचना कल मंगलवार (21 -05-2013) को ब्लॉग प्रसारण अंक - २ पर लिंक की गई है कृपया पधारें.

    ReplyDelete
  5. आपने बिलकुल सही कहा ! में आपकी बात से पूरी तरह से सहमत हु ! वेसे भी अब तो आपका ब्लॉग सुरक्षित हे ! अगर मुझसे कोई भी गलती हुयी हो तो माफ़ करे ! मेरे ब्लॉग को अपने तकनिकी लेबल में सामिल करने के लिए आपका बहुत बहुत बहुत बहुत धन्यवाद ! मेरा प्रयास आप जेसे ब्लॉगर सार्थक कर रहे हे मुझे यह जानकर बहुत खुसी हुयी !

    ReplyDelete

आपको आज की पोस्ट कैसी लगी ? अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई तो ही कमेंट्स करें ,वर्ना कोई जरुरी नही। वर्ना पढ़कर चले जाएँ ,मेरे लिए आपका दिलचस्पी से पढना कमेंट्स से बढ़कर सम्मान है। अगर आपको मास्टर्स टैक टिप्स की कोशिशें पसंद आयीं ,तो आप भी इसे आज ही ज्वाइन कर लें.कमेंट्स पाने के लिए कोई भी सज्जन यहाँ कमेंट्स ना करें। और ना ही कोई निमन्त्रण भेजें।

emo-but-icon

Home item

ADS

Search Post

Website Only 5000

Website Only 5000
Start Your Own Site

Subscribe Channel

Like On Facebook