Header Ads

Masters Tech Blog Convert to Website -masterstech.in


डियर रीडर्स , आज मास्टर्स टैक ब्लॉग का सफ़र दुबई से एक तकनिकी ब्लॉग के रूप में शुरू हुआ था.जिसे मैंने सिर्फ एक शौक के लिए शुरू किया था.मुझे तकनिकी जानकारियां हासिल करना और उन्हें शेयर करना काफी ज्यादा पसंद था.इस ब्लॉग के जरिये ये शौक पूरा हुआ.कभी भी ये सोचा नही था की ये ब्लॉग एक दिन एक प्रोफेशनल तकनिकी हिंदी ब्लॉग के रूप में आगे बढ़ता रहेगा.

Masters Tech Blog Convert to Website
Masters Tech Blog Convert to Website 

आज की पोस्ट इस ब्लॉग के नाम लिखने की एक वजह ये है की आज ये ब्लॉग एक वेबसाइट बन चूका है.आज मैंने इसे एक नयी पहचान देने का फैसला किया और इस ब्लॉग के लिए एक कस्टम डोमेन www.masterstech.in ख़रीदा और इसे ब्लॉग से वेबसाइट में कन्वर्ट कर दिया.

जो मेरे नियमित पाठक हैं उन्हें शायद पता होगा की मै कुछ समय पहले इस ब्लॉग को बंद करना चाहता था.क्यों की इस पर एडसेंस अप्रोव नही हुआ था इसलिए मैंने ये सोचा था की इसकी जगह नए सिरे से सफ़र शुरू करते हैं ,और इसे बंद कर देते हैं.लेकिन मेरे एक ब्लोगर दोस्त मयंक भारद्वाज ने मुझे उस समय गाइड किया और इसे चलाने की सलाह दी.उन्होंने समझाया की इतने साल की मेहनत ऐसे ही चली जाएगी ,आप नयी वेबसाइट शुरू करो ,लेकिन इसके साथ साथ इसे भी चलाते रहो.नयी साईट के लिए इसे बंद करने की क्या जरुरत है.

बात समझ में आई और सोचा की वाकई नयी साईट की पहचान बनाने में काफी समय लगेगा,और नयी साईट के लिए इस ब्लॉग को बंद करने की भी कहाँ जरुरत थी.इसके साथ साथ ही नयी साईट को समय दिया जा सकता था.इस तरह ये ब्लॉग चलता रहा ,और नयी साईट पर इतनी मेहनत करने के बाद भी मास्टर्स टैक के बराबर ट्राफिक नही आता था.इसे मैंने अपडेट करना बंद कर दिया था,और लगभग 1 साल तक इसमें कोई पोस्ट भी नही की ,हैरानी की बात ये है की फिर भी रोजाना २ हजार विजिटर्स इस ब्लॉग पर आते रहते थे.

फिर काफी सोच समझ के इस ब्लॉग को दुबारा अपडेट्स करना शुरू किया ,ये सिलसिला अभी तक भी जारी है और आगे भी चलता रहेगा.नयी साईट भी बनी इन्फो टैक हिंदी के नाम से और उस पर पोस्ट्स का सिलसिला भी चल रहा है ,इस नयी साईट से 6 माह में मैंने रूपए भी कमाए और विजिटर्स भी.इसकी अपनी एक पहचान बनी.इन्फो टैक हिंदी साईट की पोस्ट्स ज्यादातर रोमन हिंदी में है ,और मास्टर्स टैक की हिंदी भाषा में.दोनों में फर्क भी रह गया और वर्क भी दोनों में करता रहता हूँ.

इस ब्लॉग का नाम मास्टर्स टैक इसलिए रखा गया की दुबई में मुझे मास्टर के नाम से एक पहचान मिली थी ,और सभी इसी नाम से पुकारते थे.क्यों की कई साल पहले मैं स्कूल्स में अध्यापक भी रह चूका हूँ.उसके बाद इन्टरनेट पर ऑनलाइन विजिटर्स में बीच निक नेम आमिर से पहचान बनी ,यहाँ तक की किसी को मेरा रियल नेम भी नही पता .जो लोग जानते हैं सिर्फ उन्ही को पता है.लेकिन आप सभी के लिए आमिर भाई ही सही है.

आज आपकी पसंदीदा ब्लॉग मास्टर्स टैक डॉट इन हो चुकी है.और इसमें रोजाना नयी नयी जानकारियों का सिलसिला चल रहा है ,इसमें आपको रोजाना पोस्ट्स पढने को मिलती रहेगी.आप इसी तरह अपना स्नेह बनाये रखें ,और पोस्ट्स को पढ़ते रहें और शेयर भी करते रहें ,एक ब्लोगर के लिए इतना सपोर्ट भी काफी है.

साथ ही आपको ये भी बताता चलूँ की मै अब इंग्लिश भाषा में ब्लोगिंग में कदम रखने वाला हूँ ,सभी तयारी हो चुकी है ,और फ़िलहाल मेरा पूरा फोकस उसी पर रहेगा.इन दोनों साइट्स पर भी डेली पोस्ट्स होती रहेगी ,चाहे मै करूं या कोई और.

आज मै एक फुल टाइम ब्लोगर हूँ और साथ ही अपने यू ट्यूब चैनल्स को भी चला रहा हूँ ,इतने साल के संघर्ष के बाद अब मैंने ब्लोगिंग से रूपए कमाने शुरू किये हैं.और हिंदी ब्लोग्स और साइट्स पर पोस्ट्स करना एक सेवा ही है ,इनमे इतनी इनकम नही होती.ये आज भी एक शौक की तरह है.हाँ फर्क इतना है की पहले इनसे कुछ नही मिलता था आजकल थोडा बहुत इनसे भी हासिल हो जाता है.

जल्द ही सभी साइट्स को वर्डप्रेस पर शिफ्ट करके होस्टिंग भी लेने वाला हूँ ,फ़िलहाल कुछ माह तक इंग्लिश साईट पर फोकस रहेगा.

उम्मीद करता हूँ की आपको ये जानकार जरुर ख़ुशी होगी ,मास्टर्स टैक का सफ़र और भी आगे बढेगा.और यहाँ इसी तरह टिप्स एंड ट्रिक्स शेयर किये जाते रहेंगे.और नयी नयी जानकारियां हमारा तकनिकी ज्ञान बढ़ाती रहेंगी.


आप सभी दुआ करें.

आमिर अली
www.masterstech.in
www.infotechhindi.net 

No comments

आपको आज की पोस्ट कैसी लगी ? अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई तो ही कमेंट्स करें ,वर्ना कोई जरुरी नही। वर्ना पढ़कर चले जाएँ ,मेरे लिए आपका दिलचस्पी से पढना कमेंट्स से बढ़कर सम्मान है। अगर आपको मास्टर्स टैक टिप्स की कोशिशें पसंद आयीं ,तो आप भी इसे आज ही ज्वाइन कर लें.कमेंट्स पाने के लिए कोई भी सज्जन यहाँ कमेंट्स ना करें। और ना ही कोई निमन्त्रण भेजें।

Powered by Blogger.